12th Chemistry Objective Question Chapter 5

12th Chemistry Objective Question Chapter 5

Q.1. ताजे अवक्षेप को कोलाईडल विलयन में बदला जा सकता है।
(A) कोगुलेशन
(B) पेप्टाइजेशन
(C) डिफ्यूजन
(D) इनमें से कोई नहीं
Ans – (B)

Q.2. पदार्थ जिसके पृष्ठ पर अधिशोषण घटित होता है, कहलाता है ?
(A) अधिशोषक
(B) अधिशोषण
(C) अधिशोषक और अधिशोष्य
(D) इनमें से कोई नहीं
Ans – (A)

Q.3. अधिशोषण की प्रक्रिया होती है
(A) ऊष्माक्षेपी
(B) ऊष्माशोषी
(C) ऊष्माक्षेपी और ऊष्माशोषी
(D) इनमें से कोई नहीं
Ans – (A)

Q.4. अधिशोषण जिसमें अधिशोषक एवं अधिशोष्य मुक्त संयोजकता द्वारा संलग्न होते हैं, कहलाता है
(A) भौतिक अधिशोषण
(B) रासायनिक अधिशोषण
(C) अवशोषण
(D) इनमें से कोई नहीं
Ans – (B)

Q.5. रासायनिक अधिशोषण की अधिशोषण ऊष्मा भौतिक अधिशोषण की अधिशोषण ऊष्मा की अपेक्षा होती है।
(A) कम
(B) अधिक
(C) कम और अधिक दोनों
(D) इनमें से कोई नहीं
Ans – (B)

Q.6. निम्न में से उत्प्रेरक का लक्षण प्रकट करता है ?
(A) यह साम्य बिन्दु को परिवर्तित करता है
(B) किसी अभिक्रिया को प्रारंभ कराता है
(C) अभिक्रिया की दर को बढ़ाता है
(D) यह किसी अणु की गतिज ऊर्जा को बढ़ा देता है
Ans – (C)

Q.7. उत्प्रेरक अभिक्रिया के दर को बढ़ाता है।
(A) एन्थैल्पी को घटकार
(B) आंतरिक ऊर्जा को कम करके
(C) सक्रियण ऊर्जा को घटाकर
(D) सक्रियण ऊर्जा को बढ़ाकर
Ans – (C)

Q.8. जैव उत्प्रेरक होता है।
(A) एक एन्जाइम
(B) एक कार्बोहाइड्रेट
(C) एक अमोनो अम्ल
(D) एक नाइट्रोजन युक्त क्षार
Ans – (A)

Q.9. उत्प्रेरक की क्रियाशीलता निर्भर करती है।
(A) द्रव्यमान पर
(B) विलेयता पर
(C) कणों के आकार पर
(D) इनमें से कोई नहीं
Ans – (C)

Q.10. उत्प्रेरण के अधिशोषण सिद्धांत के अनुसार अभिक्रिया वेग बढ़ जाता है क्योंकि ?
(A) उत्प्रेरक के सक्रिय केन्द्रों पर अधिशोषण के कारण अधिकारकों की सान्द्रता बढ़ जाती है
(B) अधिशोषण के कारण अणुओं की सक्रियण ऊर्जा बढ़ जाती है
(C) अधिशोषण ऊष्मा उत्पन्न करके क्रिया के वेग को बढ़ा देता है
(D) अधिशोषण अभिक्रिया की सक्रियण ऊर्जा को कम कर देता है
Ans – (D)

Q.11. वनस्पति तेल से वनस्पति घी के निर्माण में प्रयुक्त उत्प्रेरक है ?
(A) Fe
(B) MO
(C) Ni
(D) Pt
Ans – (C)

Q.12. तेलों के हाइड्रोजनीकरण में किस उत्प्रेरक का उपयोग किया जाता है ?
(A) Pt
(B) Ni
(C) Mo
(D) V2O5
Ans – (B)

Q.13. हेबर विधि द्वारा अमोनिया के निर्माण में Fe उत्प्रेरक के लिए वद्धक का कार्य करता है ?
(A) Cu
(B) Mno2
(C) Ni
(D) Mo
Ans – (D)

Q.14.उत्प्रेरकीय गुण प्रायः दर्शाते हैं ?
(A) संक्रमण तत्त्व
(B) असंक्रमण तत्त्व
(C) अन्तः संक्रमण तत्त्व
(D) प्रारूपी तत्त्व
Ans – (A)

Q.15. अम्लीय KMnO4द्वारा ऑक्जेलिक अम्ल (C2H2O4) के ऑक्सीकरण की अभिक्रिया
के लिए उत्प्रेरक है।
(A) MnO–4
(B) MnO2
(C) Mn++
(D) H+
Ans – (C)

Q.16. वर्धक (Moderator) का कार्य होता है ?
(A) अभिक्रिया की दर को बढ़ाना
(B) उत्प्रेरक की उत्प्रेरक सक्रियता को बढ़ाना
(C) अभिक्रिया के ताप को बढ़ाना
(D) अभिक्रिया के उत्पादों की सान्द्रता को बढ़ाना
Ans – (B)

Q.17. चेम्बर विधि से H2SO4 के उत्पादन की अभिक्रिया 2SO2(g) + O2 (g) → 2SO3(g) में किस उत्प्रेरक का व्यवहार किया जाता है।
(A) Pt
(B) NO
(C) Cu
(D) Fe
Ans – (B)

Q.18. ग्लिसरीन की उपस्थिति में H202 का अपघटन मन्द हो जाता है। यहाँ गिलसरीन है ?
(A) विष
(B) संदमक
(C) वर्धक
(D) सभी तीनों
Ans – (B)

Q.19. एन्जाइमों के सम्बन्ध में कौन-सा कथन सही नहीं है ?
(A) एन्जाइमों की उत्प्रेरक सक्रियता ताप एवं pH परिवर्तन से प्रभावित नहीं होती है
(B) एन्जाइमों की उत्प्रेरक क्रिया अति विशिष्ट होती है
(C) एन्जाइम शरीर की क्रियात्मक अभिक्रियाओं को उत्प्रेरित करती है
(D) एन्जाइम उच्च अणुभार के प्रोटीन हैं जो जीवित कोशिकाओं में उत्पन्न होते हैं
Ans – (A)

Q.20. प्लैटिनम उत्प्रेरक के लिए विष का कार्य करते हैं ?
(A) सल्फर के ऑक्साइड
(B) नाइट्रोजन के ऑक्साइड
(C) ऑसैनिक के ऑक्साइड
(D) अमोनिया और ऑक्सीजन
Ans – (C)

Q.21. निम्न में से कोलॉयडी कणों पर आकार है ?
(A) 10-7 से 10-9 सेमी०
(B) 10-9 से 10-11 सेमी०
(C) 10-5 से 10-7 सेमी०
(D) 10-2 से 10-3 सेमी०
Ans – (C)

Q.22. निम्न में से कौन टिण्डल प्रभाव नहीं दिखाता ?
(A) सस्पेंशन
(B) इमल्शन
(C) शर्करा विलयन
(D) स्वर्ण विलयन
Ans – (C)

Q.23. द्रवस्नेही विलयन स्थायी होता है क्योंकि
(A) कणों पर आवेश के कारण
(B) कणों का बड़ा आकार होता है
(C) कणों का छोटा आकार होता है
(D) परिक्षेपण माध्यम की परतों के कणों पर उपस्थित होना
Ans – (A)

Q.24. CMC पर सतह कण
(A) अपघटित हो जाते हैं
(B) पूर्णतया विलेय हो जाते हैं
(C) संगठित हो जाते हैं
(D) पृथक हो जाते हैं
Ans – (C)

Q.25. कोलॉइड पर उपस्थित आवेश को नष्ट करने हेतु किसे प्रयुक्त करते हैं ?
(A) इलेक्ट्रॉन
(B) वैधुत अपघट्य
(C) धनायन
(D) यौगिक
Ans – (B)

Q.26. ब्रेडिंग आर्क विधि द्वारा किसका कोलॉइडी विलयन नहीं बनाया जा सकता है ?
(A) Pt
(B) Fe
(C) Ag
(D) Au
Ans – (B)

Q.27. 0.73g HCI मिलाने पर बिना आयतन परिवर्तन के 200 mL धनात्मक सॉल का स्कंदन होता है। इस कोलॉइड के लिए HCI का अवक्षेप मान है:
(A) 0.365
(B) 36.5
(C) 100
(D) 200
Ans – (B)

Q.28. कोलॉइडों में व्यास का परास है:
(A) 1 से 100 nm
(B) 1 से 1000 nm
(C) 1 से 100 cm
(D) 1 से 100m
Ans – (B)

Q.29. स्वर्ण संख्या सबसे कम होती है
(A) जिलेटिन में
(B) अण्डे के एल्बुमिन में
(C) गोंद में
(D) स्टार्च में
Ans – (A)

Q.30. कुहरा निम्न में से किस प्रकार के कोलॉयडल सिस्टम का उदाहरण है
(A) गैस का द्रव में विलयन
(B) द्रव का गैस में विलय
(C) ठोस का द्रव में विलयन
(D) द्रव का द्रव में विलयन
Ans – (B)

Q.31. सभी लेन्थेनॉयड के लिए कौन-सी निम्नलिखित ऑक्सीकरण अवस्था सामान्य है
(A) +2
(B) +3
(C) +4
(D) +5
Ans – (B)

Q.32. धातु आयनों की पहचान तथा मात्रात्मक आकलन के लिए अभिकर्मक प्रयुक्त होते है
(A) EDTA
(B) DMG
(C) α-nitoso-β-naphthol
(D) इनमें से सभी
Ans – (D)

Q.33. निम्न में से कौन प्यूरीन व्युत्पन्न है ?
(A) साइटोसीन
(B) ग्वानीन
(C) यूरेसिल
(D) थायमीन
Ans – (B)

Q.34. द्रव में किसी द्रव के परिक्षेपन कहलाता है
(A) जैल
(B) फने
(C) पायस
(D) ऐरोसॉल का
Ans – (C)

Q.35. ब्राउनियन गति का कारण है
(A) द्रव अवस्था में ताप का उतार-चढ़ाव
(B) कोलॉइडी कणों पर आवेश का आकर्षण-प्रतिकर्षण
(C) परिक्षेपन माध्यम के अणुओं का कोलॉइडी कणों पर संघात
(D) कणों का आकार
Ans – (C)

Q.36. धनात्मक सॉल के स्कंदन के लिए सर्वाधिक प्रभावी पदार्थ
(A) K4[Fe(CN)6]
(B) AlCl3
(C) Cuso4
(D) C2H5OH
Ans – (A)

Q.37. किसी आयन का स्कंदन प्रभाव निर्भर करता है
(A) संयोजकता के चिह्न पर
(B) संयोजकता तथा आवेश के चिह्न पर
(C) आवेश के चिह्न पर
(D) आकार पर
Ans – (B)

Q.38. क्रिस्ट लाभ कोलॉइड से भिन्न है
(A) कणों के आकृति में
(B) कणों के आकार में
(C) वैधुतीय व्यवहार में
(D) विलेयता में
Ans – (B)

Q.39. ठोस पदार्थ पर किसी द्रव का परिक्षेपन कहलाता है।
(A) सॉल
(B) जैल
(C) पायस
(D) फोम
Ans – (B)

Q.40. सूक्ष्म विभाजित प्लैटिनम उत्प्रेरक की अधिक सक्रियता का यह भी एक कारण है कि
(A) इसके कणों का आकार लगभग परमाणु के बराबर होता है
(B) इसका अधिक बड़ा पृष्ठीय क्षेत्रफल होता है
(C) इसकी भौतिक अवस्था के कारण यह शीघ्र क्रिया करता है
(D) यह एक माध्यमिक यौगिक बनाता है
Ans – (B)

Q.41. ग्रिगनार्ड अभिकर्मक निर्माण में प्रयुक्त उत्प्रेरक है:
(A) आयोडीन चूर्ण
(B) आयरन चूर्ण
(C) मैंगनीज ऑक्साइड
(D) सक्रिय चारकोल
Ans – (A)

Q.42. उत्प्रेरक के संदर्भ में असत्य है ?
(A) ये कभी-कभी अभिकारक के सापेक्ष अति विशिष्ट होते हैं
(B) अभिक्रिया के अंत में ये संघटन एवं द्रव्यमान में अपरिवर्तित रहते हैं
(C) ये अभिक्रिया को चालू नहीं कर सकते
(D) ये उत्क्रमणीय अभिक्रिया के साम्य को परिवर्तित नहीं करते हैं ।
Ans – (B)

Q.43. एन्जाइम के संदर्भ में सही है ?
(A) ये विशिष्ट जैव उत्प्रेरक हैं जो सामान्यतः बहुत कम ताप पर (100K) कार्य करते है
(B) सामान्यतः ये विषमांगी उत्प्रेरक होते हैं और क्रिया में अति विशिष्ट होते हैं
(C) एन्जाइम वे विशिष्ट जैव उत्प्रेरक हैं जिसे विष नहीं दिया जा सकता
(D) एन्जाइम वे विशिष्ट जैव उत्प्रेरक हैं जिसमें सुपरिभाषित सक्रिय केन्द्र होते हैं
Ans – (B)

Q.44. उत्क्रमणीय अभिक्रिया में उत्प्रेरक
(A) केवल अग्र अभिक्रिया की दर बढ़ाते हैं
(B) पश्च अभिक्रिया की अपेक्षा अग्र अभिक्रिया की दर को अधिक बढ़ाते हैं
(C) भिन्न-भिन्न मात्रा में अग्र अभिक्रिया की दर बढ़ाते है और पश्च की दर घटाते हैं
(D) अग्र एवं पश्च, दोनों अभिक्रियाओं की दर को समान रूप से बढ़ाते हैं
Ans – (D)

Q.45. सूक्ष्म विभाजित उत्प्रेरक अधिक प्रभावी होता है, क्योंकि
(A) कम पृष्ठ क्षेत्रफल उपलब्ध होता है
(B) अधिक सक्रिय केन्द्र बनते हैं
(C) अणुओं की सीमित संख्या
(D) पृष्ठ क्षेत्रफल बढ़ता है।
Ans – (B)

Q.46. एन्जाइम के संदर्भ में असत्य हैः
(A) ये कोलॉइडी अवस्था में होते हैं
(B) ये उत्प्रेरक है
(C) ये किसी भी अभिक्रिया को उत्प्रेरित कर सकते हैं
(D) एंटिजन एक एन्जाइम है
Ans – (C)

Q.47. मानव शरीर में एन्जाइम उत्प्रेरित कुछ जैव रासायनिक अभिक्रियाएँ प्रयोगशाला की तुलना में 103 गुना तेज होती है। अभिक्रिया की सक्रियण ऊर्जाः
(A) शून्य है
(B) दोनों दशाओं में भिन्न-भिन्न है
(C) दोनों दशाओं में समान है
(D) इनमें से कोई नहीं
Ans – (B)

Q.48. जब एक द्रव को प्रकाश के बीच में से प्रवाहित करते हैं तो फैल जाता है लेकिन फिल्टर पेपर से प्रवाहित करने पर कोई अवशेष नहीं बचता है तो वह द्रव है
(A) निलम्बन
(B) तेल
(C) कोलॉइडी विलयन
(D) वास्तविक विलयन
Ans – (C)

Q.49. बादल निम्न में से किसका उदाहरण है
(A) ठोस का गैस में मिश्रण
(B) द्रव का गैस में मिश्रण
(C) द्रव का ठोस में मिश्रण
(D) ठोस का द्रव में मिश्रण
Ans – (B)

Q.50. ब्राउनी गति का कारण है
(A) ऊष्मा का द्रव अवस्था में परिवर्तन
(B) वैधुत धारा का प्रवाह
(C) परिक्षेपण माध्यम के कणों का कोलॉयडी कणों पर निरंतर टकराव
(D) कोलॉयडी कण व परिक्षेपण माध्यम के बीच का आकर्षण बल का होना
Ans – (C)

Q.51. लैंगम्यूर समतापी किस परिकल्पना पर आधारित है:
(A) अधिशोषण स्थलों की कणों की अधिशोषित करने की क्षमताएँ समतुल्य होती हैं
(B) अधिशोष ऊष्मा विस्तार के साथ बढ़ती है
(C) अधिशोषित अणु परस्पर अन्तक्रिया करते हैं
(D) अधिशोषण बहुलपरतीय होती है
Ans – (A)

Q.52. अधिशोषण सभी दशाओं में उपयोगी है, सिवायः
(A) रंगहीन करने में
(B) समांगी उत्प्रेरण में
(C) अक्रिय गैसों का पृथक्करण में
(D) आर्द्रता निरोधन में
Ans – (B)

Q.53. सिलिकेट रिक्तियों में रंगीन आयन विकसित करके सिलिकेट गार्डेन बनाते हैं यह उदाहरण हैं:
(A) अधिशोषण का
(B) अवशोषण का
(C) (A) एवं (B) दोनों का
(D) किसी का नहीं .
Ans – (A)

Q.54. भौतिक अधिशोषण हेतु सही नहीं है
(A) अधिशोषण ताप के साथ बढ़ता है ।
(B) अधिशोषण स्वतः होता है
(C) अधिशोषण की एन्थैल्पी एवं एन्ट्रॉपी दोनों (-)ve होती है
(D) ठोस पर अधिशोषण की प्रकृति उत्क्रमणीय होती है
Ans – (A)

Q.55. ठोस के पृष्ठ पर गैस के अधिशोषण के लैंगम्यूर मॉडल में
(A) ठोस पृष्ठ पर अधिशोषित कणों का वियोजन घेरे गए क्षेत्रफल पर निर्भर करता
(B) पृष्ठ के एकल स्थल पर अधिशोषण एक साथ बहुअणुक हो सकता है।
(C) किसी दिए गए क्षेत्रफल पर टकराने वाले गैस का द्रव्यमान उसके दाब के अनुक्रमानुपाती होता है
(D) किसी दिए गए क्षेत्रफल पर टकराने वाले गैस का द्रव्यमान उसके दाब से स्वतंत्र होता है
Ans – (C)

Q.56. टिन्डल प्रभाव पाया जाता है
(A) विलयन में
(B) अपक्षेप में
(C) सॉल में
(D) वाष्पों में
Ans – (C)

Q.57. किसी ठोस पर गैस के अधिशोषण हेतु सत्य हैः
(i) फ्रायंडलिक समतापी के अनुसार अधिशोषण की मात्रा = kPn
(ii) फ्रायंडलिक समतापी के अनुसार अधिशोषण की मात्रा =kpl/m
(iii) लैंगम्यूर समतापी के अनुसार अधिशोषण की मात्रा = aP(1+ bP)
(iv) निम्न ताप पर फ्रायंडलिक अधिशोषण समतापी असफल होता है
(A) (i) और (ii)
(B) (iii) और (iv)
(C) (ii) और (iii)
(D) (ii) और (iv)
Ans – (D)

Q.58. निम्न में से कौन लायोफिलिक कोलॉयड है।
(A) दूध
(B) गोंद
(C) कुहासा
(D) रक्त
Ans – (A)

Q.59. निम्न में कौन-सा गुण कोलॉयड विलयन के आवेश से स्वतंत्र है
(A) इलेक्ट्रो ऑसमोसिस
(B) टिन्डल प्रभाव
(C) स्कंदन (coagulation)
(D) वैधुत कण संचलन
Ans – (B)

Q.60. आरोपित वैधुत क्षेत्र में कोलॉइडी कणों की गति कहलाती है
(A) अपोहन
(B) वैधुत कण संचलन
(C) वैधुत अपोहन
(D) इनमें से कोई नहीं
Ans – (B)

Q.61. पेट्रोल में अपस्फोटकरोधी कारक के रूप में थोड़ा टेट्रोएथिल लेड (TEL) मिलाया जाता है।
(A) प्रेरित-उत्प्रेरक का
(B) ऋणात्मक उत्प्रेरक का
(C) धनात्मक उत्प्रेरक का
(D) स्व-उत्प्रेरक का
Ans – (B)

Q.62. निम्न में से किसे बढ़ाकर उत्प्रेरक अभिक्रिया की गति बढ़ा देता है
(A) अणुओं की औसत गतिज ऊर्जा
(B) आण्विक टक्करों की आवृत्ति
(C) अभिक्रिया की सक्रियण ऊजां
(D) सक्रियण ऊर्जा से अधिक ऊर्जा के अणुओं का अनुपात
Ans – (D)

Q.63. निम्न में से कौन हाइड्रोजन गैस को अधिशोषित करता है
(A) सक्रिय चारकोल
(B) सिलिका जेल
(C) प्लैटिनम ब्लैक
(D) लौह चूर्ण
Ans – (C)

Q.64. हाइड्रोफिलिक कोलॉइड सॉल है
(A) बेरियम सल्फेट सॉल
(B) आर्सेनिक सल्फाइड सॉल
(C) स्टार्च विलयन
(D) सिल्वर क्लोराइड सॉल
Ans – (C)

Q.65. धनावेशित सॉल है।
(A) रक्त
(B) प्रबल अम्लीय विलयन में जिलेटिन
(C) धुंआ
(D) क्ले मिट्टी
Ans – (B)

Q.66. स्व-उत्प्रेरण में
(A) अभिकारक उत्प्रेरित करता है
(B) अभिक्रिया में उत्पन्न ताप उत्प्रेरित करता है
(C) प्रतिफल उत्प्रेरित करता है
(D) विलायक उत्प्रेरित करता है
Ans – (C)

Q.67. निम्न में से कौन-सा पदार्थ लायोफिलिक सॉल बनाने में व्यवहार नहीं किया जाता
(A) स्टार्च
(B) गोंद
(C) जिलेटिन
(D) धातु का सल्फाइड
Ans – (D)

Q.68. किस प्रकार के उत्प्रेरक की व्याख्या अधिशोषण सिद्धान्त से की जा सकती है ?
(A) समांगी उत्प्रेरण
(B) विषमांगी उत्प्रेरण
(C) अम्ल-क्षार उत्प्रेरण
(D) एन्जाइम उत्प्रेरण
Ans – (B)

Q.69. निम्न में से किस धातु सॉल के Bredig आर्क विधि से नहीं बनाया जा सकता है ?
(A) Cu
(B) K
(C) Au
(D) Pt
Ans – (B)

Q.70. लैंगम्यूर अधिशोषण समतापी अच्छी तरह कार्यशील है जहाँ .
(A) बहु परतीय अधिशोषण हो सकता है
(B) एक परतीय अधिशोषण होता है
(C) प्राथमिक प्रावस्था में एक आण्विक अधिशोषण हो और बाद में बहु-आण्विक अधिशोषण हो
(D) सभी उपर्युक्त स्थितियों में
Ans – (B) 

अतः आप सभी के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए हमें आशा ही नहीं बल्कि पूर्ण विश्वास है कि आप इस आर्टिकल को लाइक शेयर एवं एक प्यारा सा कमेंट जरुर करेंगे धन्यवाद!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!